मैं एक भक्त हूँ, एक मोदी भक्त!

Singapore India Hackathon , 2019,IIT Madras, Cash prizes,

कल, मैं एक असली भारत रत्न, हमारे प्रधानमंत्री, श्री नरेंद्र मोदी, के लिए वोट डालने वाला हूँ.

शायद ही भारत की इतिहास में ऐसा कोई व्यक्ति आया हुआ हो जिसने करोड़ों के दिलों पर ऐसे राज किया हो.

ये एक ऐसा व्यक्ति है जिसके चरित्र पर भ्रष्टाचार के कलंक का कोई सवाल ही नहीं, जिसके अंदर की ऊर्जा असीमित हो, जिसने भारत के लिए अपना सब दिया हो- ‘त्याग ‘ और ‘सेवा ‘ शब्द का पूरा अर्थ जिसके प्रत्येक कार्य में स्पष्ट दिखता हो.

लोग मुझे ‘भक्त’ बोलते हैं यह समझ कर की यह किसी तरह का ताना है. पर मुझे इसमें कोई शर्म नहीं. ऐसी महान आत्मा, जिनका  हज़ारों वर्ष में एक बार जन्म हो  – हाँ, मैं उनका भक्त हूँ.

भक्ति – क्या सुन्दर शब्द है! किसी और भाषा मैं इसका अनुवाद करना कठिन नहीं, असंभव है. हाँ, मैं भक्त हूँ, और अगर आपको ये अच्छा नहीं लगता हो तो कृपया आगे  न पढ़ें.

इंटरनेट के अनेक कोने से लोमड़ी समाज का कर्कश रुदन , दो तीन बेकार की गालियाँ – उन लोगों से जो अपने आपको बुद्धिजीवी मानते हैं और आम जनता से अपने आप को बहुत ऊँचा समझते हैं – ऐसे लोगों से मुझे कोई मतलब है भी नहीं. पिछले पांच साल में जो देश में हुआ है -किसी ने नहीं सोचा होगा की ऐसा संभव हो सकता है.

मोदी के समर्थन मैं लोगों का उत्साह – विशाल रैलियां, ट्रेन के डिब्बों में भजन, सड़कों के चौराहों पर फ्लैश मोब- किसी ने इन लोगों को पैसा नहीं दिया और ना ही किसी पार्टी से इन लोगों का कोई वास्ता है. यह साधारण नेक लोग हैं जो अपने विभिन्न कामों में लगे हुए हैं.

पर सब पहचानते हैं – बिना किसी द्वेष के – की हम ऐसे विचित्र समय एक महान पुरुष के साथ गुज़ार रहें हैं जिन्हें कुछ आसाधारण खनिज तब मिले होंगे जब वे हिमालय में समय व्यतीत कर रहें थे!

आज हम किसी भी देश में जाएँ तो हमारे पासपोर्ट का स्वागत होता है

आज हम सामाजिक परियोजनाएं में गर्व से शामिल होते हैं

आज हमें स्वच्छता का अर्थ पूरी तरह से समझ में आया है

आज टैक्स भरने में हमें कोई संकोच नहीं

आज हमें जन धन बैंक अकाउंट खोलने में प्रसन्नता है जिससे ग़रीब तबका आज हमारे साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा है

मोदी सरकार के इस मुद्दे पर हुई थी आलोचना, पर सच्चाई क्या है?

यह कैसे हुआ? सदियों से मानसिक दबाव, एक ऐसा विश्वास की ‘कुछ नहीं हो सकता इस देश में, कि भ्रष्ट लोग कुछ भी कर सकते हैं और कोई पूछने वाला नहीं है  – अचानक सब बदल गया.

आज मैं प्रधानमंत्री मोदी के पोर्टल में आपने प्रश्न पूछता हूँ और तुरंत उनका उत्तर भी मिलता है. ट्रेन में सफर करना अब कितना अच्छा लगता है – क्या साफ़ गाड़ियां, क्या साफ़ स्टेशन! टैक्स भरना अब बोझ नहीं लगता क्योंकि मुझ में यह विश्वास है कि उसका सदुपयोग होगा. अब वो डर नहीं क्योंकि सेना सतर्क और शक्तिशाली है और उसको खुला हाथ दिया गया है.

एक व्यक्ति ने यह सब किया है – नरेंद्र मोदी।  नव भारत का निर्माण उन्होने प्रारम्भ किया है, ऐसा मेरा शिद्दत से मानना है.

इसीलिए मेरा वोट नरेंद्र मोदी के लिए है.. और हाँ बंधुओं मैं भक्त हूँ!

क्या आप राहुल गाँधी से शादी करेंगी? ( वीडियो)

Vasudev Murthy

ये लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं, और इनसे www.currentriggers.com का कोई सरोकार नहीं है|